You are currently viewing परिश्रम ही धन है | Short Hindi Story
Hard Work

परिश्रम ही धन है | Short Hindi Story

Hindi Stories
Hard Work

Hard Work Short Hindi Story

सुन्दरपुर गांव में एक किसान (Farmer) रहता था । उसके चार बेटे थे । वे सभी आलसी (Lazy) और निक्कमे थे । जब किसान बुढा हुआ तो उसे बेटों की  चिंता सताने लगी ।

एक बार किसान बहुत बीमार पड़ा । मृत्यु निकट देखकर उसने चार बेटों को अपने पास बुलाया । उसने उस चारों को कहा “मैने बहुत सा धन अपने खेत में गाड़ रखा है । तुम लोग उसे निकल लेना ।” इतना कहते – कहते किसान के प्राण निकल गए ।

पिता का क्रिया-क्रम करने के बाद चारों भाइयों ने खेत की खुदाई शुरू कर दी । उन्होंने खेत का चप्पा-चप्पा खोद डाला, पर उन्हें कही धन नहीं मिला । उन्होंने पिता को खूब कोसा । वर्षा ऋतु आने वाली थी । किसान के बेटों ने उस खेत में धान के बीज बो दिए । वर्षा का पानी पाकर पौधे खूब बढ़े । उन पर बड़ी-बड़ी बालें लगी । उस साल खेत में धान की बहोत अच्छी फसल हुई ।

चारों भाई बहुत खुश हुए । अब पिताजी की बात का सही अर्थ उनकी समझ में आ गया । उन्होंने खेत की खुदाई करने में जो परिश्रम (Hard Work) किया था, उसी से उन्हें अच्छी फसल के रूप में बहुत धन मिला था ।

इस प्रकार श्रम का महत्व समझने पर चारों भाई मन लगाकर खेती करने लगे ।

–: Moral :–

सिख : परिश्रम ही सच्चा धन है ।

—–

नमस्कार प्यारे भाइयों और बहनों. मैं आप सब को Aasaan Hai की और से एक नम्र विनंती करता हूँ की अगर आप के पास हिंदी में कोई Motivational Stories, Success Stories या Inspirational Quotes है तो आप हमें इस E–Mail Id : haiaasaan@gmail.com पे ज़रुर भेजे. पसंद आने पर हम यहाँ आपके नाम और पते के साथ Article Post करेंगे. मैं आशा करता हूँ आप हमें ज़रुर सहयोग करेंगे. धन्यवाद. 🙂

VIRAT CHAUDHARY

हेल्लो फ्रेंड्स, मैं विराट आसान है का संस्थापक और मोटिवेशनल लेखक, ब्लॉगर और इंटरप्रेन्योर हूँ. मैं यहाँ अपने लाइफ एक्सपीरियंस शेयर करता हूँ और बताता हूँ की कैसे हम अपनी लाइफ आसान और सक्सेसफुल बनाये, कैसे अपने मनचाहे लक्ष्य प्राप्त करे और कैसे एक विराट सफलता हासिल करे. यहाँ मैं रेगुलर प्रेरणादायक, आत्मविश्लेषण और आत्मविकास के अत्यधिक प्रभावशाली लेख प्रस्तुत करता हूँ जिसे पढ़कर बेशक आप सब की लाइफ आसान और सफल होगी. Love You All. :)

This Post Has 10 Comments

  1. alok kumar

    जरूरी नही हमेशा बुरे कर्मो की
    वजह से ही दर्द सहने को मिले
    कई बार हद से ज्यादा अच्छा
    होने की भी कीमत चुकानी पड़ती है.

  2. zoya ali

    achi kahani likhi hai bhai maza aya padh kar

  3. ANKUR KUMAR

    चारों भाई बहुत खुश हुए । अब पिताजी की बात का सही अर्थ उनकी समझ में आ गया । उन्होंने खेत की खुदाई करने में जो परिश्रम (Hard Work) किया था, उसी से उन्हें अच्छी फसल के रूप में बहुत धन मिला था ।

    इस प्रकार श्रम का महत्व समझने पर चारों भाई मन लगाकर खेती करने लगे ।

    सिख : परिश्रम ही सच्चा धन है ।

    NAMASKAR ALL FRINDS

  4. Sonali prakash

    Kisi kaam me veyast hona ..kisi bastu PR drishti hona…..koy kaam haath me Lena…majbuti se pakre rahena… Apna ashthan jma k rakhna…acchi sambhawana hona ..swast chinta jank hona …kisi kaam me kisi ko shyoge dena.. Kisi kaam me veyast hona….friends mera naam Sonali Prakash h me ek writer bnna chaheti hu agar meri poeam pasend aaye to plz mujhe call krna 7004287619…..samastipur Bihar my fathers name sanjeet Kumar Sinha my qualifications bsc part 3 chemistry honours address mohanpur road kashi pur samastipur

  5. Amit Mandal

    You are Great
    Very nice story

    1. Suraj tawar

      Very nice story

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.