You are currently viewing खुश कैसे रहें? – 10 Happy Life Tips in Hindi

खुश कैसे रहें? – 10 Happy Life Tips in Hindi

खुशी हर व्यक्ति चाहता है । जीवन में कहीं-न-कहीं हम खुशियों की तलाश करते हैं । जो भी करते हैं, जो भी करना चाहते हैं, उसमें अपनी खुशी तलाशते हैं । एक तरह से देखा जाए तो खुशी (Happiness) ही हमारे जीने का मक़सद होती है । जीवन की जिस राह में खुशी नहीं है, हम उस राह पर ज्यादा देर तक, ज्यादा दूर तक नहीं चल पाते । यदि चलते भी हैं, तो उदास होकर या किसी मजबूरी में । ख़ुशी के बिना जीवन में नीरसता छा जाती है, जीवन बुझा हुआ-सा प्रतीत होता है और खुशी के साथ मानों जीवन में चहल-पहल हो जाती है, प्रकाश की तरंगें छा जाती हैं । खुशी के पल जीवन को खिलखिला देते हैं, महका देते हैं, एक नई ऊर्जा व उमंग से भर देते हैं । इसलिए ऊर्जावान (Energetic) और प्रेरित (Inspired) बने रहने के लिए व्यक्ति का खुश (Happy) रहना बहुत जरूरी है ।

How to be happy in hindi

इनसान का मन जब खुश (Happy) होता है, वह अंदर से बहुत हलका व सहज महसूस करता है, लेकिन जब मन में तनाव होता है, परेशानी की लकीरें उसके चेहरे पर आ जाती हैं । मन में तरह-तरह के विचार चलने लगते हैं, नकारात्मकता हावी होने लगती है और वह व्यक्ति अपने भविष्य के लिए चिंता करने लगता है, दुर्घटनाओं की आशंका करने लगता है और ऐसे दृश्यों की कल्पना करने लगता है जिसमें उसका नुकसान हो रहा हो, तरह-तरह से हानि हो रही हो । ऐसे वक्त में वह सोच ही नहीं पाता कि उसके साथ कुछ अच्छा भी हो सकता है ।

जबकि जब मन में खुशी होती है, मन प्रसन्न होता है तो सकारात्मकता (Positivity) उसके जीवन में हावी रहती है । ऐसे समय में ही उसके विचार रचनात्मक (Creative) होते हैं, जीवन इंद्रधनुषीय आभाओं से अपनी चमक बिखेरता है और वह जीवन के नए आयामों, नए परिदृश्यों की खोज करता है ।

यदि किसी व्यक्ति से यह पूछा जाए कि वह अमुक काम क्यों कर रहा है? भले ही वह कार्य अच्छा हो या बुरा, वह यही कहता है कि मुझे ऐसा करने से खुशी मिलती है, आतंरिक प्रसन्नता (Inner Happiness) का अनुभव होता है, संतुष्टि महसूस होती है । खुशी (Happiness), मनुष्य के जीने का आधार है । इसी कारण खुशी को विकास के पैमाने के तौर पर स्वीकारा गया है और दुनिया भर में कई देश इस पर नीतियाँ बनाकर उस पर अमल करने में लगे हैं । यहाँ तक कि संयुक्त राष्ट्र संघ ने दुनिया भर के संगठनों और लोगों से शिक्षा और जागरूकता अभियानों के जरिए प्रसन्नता दिवस (Happiness Day) मनाने की अपील की है ।

हमारे जीवन को आगे बढ़ाने में खुशहाली एक इंजन की तरह काम करती है । यदि हम अपने जीवन में खुश (Happy) व संतुष्ट (Satisfied) रहते हैं तो हमारी मानसिक परेशानियाँ भी हमसे दूर रहती हैं और ज्यादा देर तक हमारे समीप टिक नहीं पातीं । हमें खुशी कैसे मिले? कैसे हमारी खुशी बढ़े? यह जानने के लिए हमें जीवन के उन सूत्रों को जानना और अपनाना होगा, जो हमारे आस-पास ही मौजूद हैं, लेकिन फिर भी हम उनसे अनभिज्ञ हैं ।

tips for happy life in hindi

10 Tips for Happy Life in Hindi

हमारा प्राकृतिक वातावरण  (Our Natural Environment)

हम जिस वातावरण में रहते हैं, प्रकृति ने उसमें अपनी भरपूर कला व सुंदरता बिखेरी है । लेकिन अपनी परेशानियों के कारण हम इसे देख नहीं पाते, इसे महसूस नहीं कर पाते और रोते कलपते रहते हैं । इसकी सुंदरता को वही जान सकता है, महसूस कर सकता है, जिसकी अंधी आँखों में देखने की रोशनी आ जाए । प्रकृति की यह सुंदरता हमें हर पल ख़ुशियों से भरती है, हर क्षण हमें नई महक-नई साँस उपलब्ध कराती है । बस, इसे एक बार निहारने की जरुरत है ।

स्वयं की विशेषता जानें  (Learn Featuring Self)

यदि हम हर समय स्वयं के दोषों को निहारेंगे, स्वयं को दोष देंगे, अपनी कमियाँ देखेंगे तो उदास ही रहेंगे । खुशी (Happiness) हमें तभी मिलती है, जब हम अपने गुणों को प्रश्रय देते हैं, अपने गुणों में वृद्धि करते है और अपनी विशेषताओं का भरपूर उपयोग करते हैं ।

उद्देश्यपूर्ण जीवन जिएँ  (Live Purposeful Life)

वे व्यक्ति जीवन में अधिक खुश (Happy) रहते हैं, जिनके जीवन का उद्देश्य स्पष्ट होता है । जिन व्यक्तियों को यह ज्ञात होता है कि वे अपने उद्देश्य की और बढ़ रहे हैं, अपने लक्ष्य (Goal), अपने गंतव्य की और जा रहे हैं, उनकी प्रसन्नता निरंतर बढ़ती रहती है । ऐसे व्यक्तियों में घबराहट, चिंता, तनाव, बेचैनी व अवसाद जैसी मानसिक परेशानियाँ बहुत कम पनपती हैं और पनपती भी हैं तो ज्यादा देर तक स्थिर नहीं रह पातीं ।

लेकिन जिन व्यक्तियों को अपने उद्देश्य का पता नहीं होता, वे यों ही जीवन में एक अनिश्चितता होती है, असंतुष्टि होती है कि पता नहीं वे कहाँ जा रहे हैं, क्या प्राप्त कर रहे हैं । इसलिए जीवन को उद्देश्यपूर्ण (Purposeful) बनाना ख़ुशियों (Happiness) को हासिल करना है ।

हर पल कुछ नया सीखें  (Learn Something New Every Day)

जीवन में सीखने के लिए बहुत कुछ है । जीवन में बहुत कुछ ऐसा है, जिसे हम नहीं जानते, लेकिन वह हमारे लिए जरूरी है, लाभदायक है और उसे जानकर, सीखकर हम अपनी काबिलियत बढ़ा सकते हैं । नया सीखने की यह जो प्रकिया है, यह हमें बहुत कुछ सिखाती है, हमारी ख़ुशियों (Happiness) को बढ़ाती है और साथ ही हमारी योग्यता में भी वृद्धि करती है ।

सकारात्मक दृष्टिकोण रखें  (Keep Positive Attitude)

यदि ख़ुशियाँ प्राप्त करनी हैं, तो यह हमें केवल सकारात्मक सोच (Positive Thinking) के साथ ही मिल सकती हैं । जीवन में नकारात्मकता एक ऐसा अंधियारा है, जो हमसे हमारी खुशी छीन लेता है, हमारे उन परों को काट देता है, जो हमें उन्मुक्त आकाश में उड़ाते हैं और हमें अपार ख़ुशियों से भरते हैं । इसलिए आगे बढ़ने के लिए, ख़ुशियाँ (Happiness) बढ़ाने के लिए हमें सकारात्मकता (Positivity) को अपनाना चाहिए और नकारात्मकता (Negetivity) से कोसों दूर रहना चाहिए ।

गिर कर संभलना सीखें  (Learn Recoup Falling)

जीवन में बहुत सारी ऐसी परिस्थितियां हमारे सामने आती हैं, जिनमें हम सफल नहीं हो पाते । बहुत-सी ऐसी ठोकरें लगती हैं, जिनकी पीड़ा से हम कराह उठते हैं, ऐसे अवसरों पर भी हमें संभलना – सीखना होगा । अपने जख्मों को भरना और फिर से संघर्ष (Struggle) करने के लिए दोगुने उत्साह से उठ खड़े होना ही श्रेष्ठ मनुष्य की पहचान है । वही मनुष्य खुश रहता है और सफल कहा जाता है, जो स्वयं को गिरने नहीं देता, यदा-कदा गिरने पर स्वयं को संभालना सिख लेता है और दूसरों को भी सहारा देता है ।

मदद के लिए सदैव आगे बढ़ें  (Always Be Ready To Help)

दूसरों की मदद करना, उनकी सहायता करना भी हमें अपार सुख देता है, आतंरिक प्रसन्नता (Inner Happiness) देता है । मदद करने से हमारा अहंकार गलता है, इससे हमारे रिश्ते सुधरते हैं, प्रगाढ़ होते हैं और मदद करने की हमारी सेवा – भावना हमें अपार आंतरिक ख़ुशी प्रदान करती है, संतुष्टि देती है ।

स्वास्थ्य का रखें ख़याल  (Keep Health Care)

हमारे शरीर और मन का संबंध एक दूसरे से जुड़ा है, एक दूसरे पर आश्रित है । यदि शरीर स्वस्थ है तो मन भी स्वस्थ होगा और यदि शरीर अस्वस्थ है तो मन भी चिडचिडा हो जाएगा । इसी तरह यदि मन बहुत परेशान है तो शरीर पर उस परेशानी का प्रभाव पड़ेगा, उसके शारीरिक क्रियाकलाप में अंतर पड़ेगा, इससे बीमारियाँ बढ़ेगी ।

लेकिन यदि मन स्वस्थ व प्रसन्न है तो शरीर की बीमारियाँ भी लंबे समय तक टिक नहीं पाएँगी, शरीर का स्वास्थ्य लाभ जल्दी होगा । इसलिए खुश (Happy) रहने के लिए हमारे शरीर व मन का स्वस्थ रहना बहुत ज़रूरी है, अन्यथा हम ख़ुशियों के पलों को महसूस नहीं कर पाएँगे ।

दूसरों से जुड़ें, अपनत्व बढ़ाएं  (Join Others and Increase Affinity)

दूसरों से जुड़ाव, लगाव, अपनत्व हमें बहुत सारी ख़ुशियाँ देता है । इसलिए संबंध जोड़े जाते हैं, संबंध बनाए जाते हैं और उन्हें निभाया जाता है । जो व्यक्ति दूसरों के साथ बड़ी आसानी से सहज रहते हैं, सामंजस्य बिठा लेते हैं, अपनत्व जोड़ लेते हैं, वे ख़ुशियाँ पाते हैं और ख़ुशियाँ बिखेरते हैं ।

अपना उज्ज्वल भविष्य निहारें  (Imagine Your Future)

जो व्यक्ति अपने भविष्य को अपार संभावनाओं, ख़ुशियों से भरपूर निहारते हैं, उनका वर्तमान तो अच्छा रहता ही है, उनका भविष्य भी उज्ज्वल रहता है; क्योंकि उज्ज्वल भविष्य की संभावना व्यक्ति के अंदर सकारात्मकता (Posititvity) का बीजारोपण करती है और उसके भविष्य को सुंदर बनाती है ।

ख़ुशी (Happiness) पर हर व्यक्ति का नैसर्गिक अधिकार है । कोई इसे हमसे छीन नहीं सकता, बजाय हम इसे अपनाए रहें, इसे गुम न होने दें । जीवन का हर पल हमें ख़ुशियों से भर सकता है, यदि हम इसमें ख़ुशियाँ निहारें ।

हमें आशा है की यह 10 Tips for Happy Life in Hindi आपके जीवन में ख़ुशियों का बढ़ावा करेगी,
आप और आपका परिवार सुखी, समृद्ध और खुशहाल बने यही हमारी शुभकामना है धन्यवाद । 🙂 🙂 🙂

VIRAT CHAUDHARY

हेल्लो फ्रेंड्स, मैं विराट आसान है का संस्थापक और मोटिवेशनल लेखक, ब्लॉगर और इंटरप्रेन्योर हूँ. मैं यहाँ अपने लाइफ एक्सपीरियंस शेयर करता हूँ और बताता हूँ की कैसे हम अपनी लाइफ आसान और सक्सेसफुल बनाये, कैसे अपने मनचाहे लक्ष्य प्राप्त करे और कैसे एक विराट सफलता हासिल करे. यहाँ मैं रेगुलर प्रेरणादायक, आत्मविश्लेषण और आत्मविकास के अत्यधिक प्रभावशाली लेख प्रस्तुत करता हूँ जिसे पढ़कर बेशक आप सब की लाइफ आसान और सफल होगी. Love You All. :)

This Post Has 27 Comments

  1. Rosan tripathi

    Hey friend your articles are osm and so helpful, Apki side mere liye special hai kyoki sandeep maheshwari के thoughts sbse phle मैंने yhi pdha tha. I also have a blog # successinsid.org #
    THIS BLOG IS ABOUT MOTIVATION AND SELF DEVELOPMENT AND THE BOOK SUMMARIES IN HINDI COULD YOU GIVE ME A CHANCE TO GEST POSTING YOU CAN ALSO VISIT MY BLOG

  2. neeta bisht

    बेहतरीन लिखा है आपने, आपका धन्यबाद

  3. Nand Kishor

    Har Pal Insan ko khush rahana chahiye or apne family ke sath time dena chahiye. Family ko bhi kuch rakhe. Life bahut choti hai tension nahi karni chahiye. Insan ki Jindagi suraj ki tarah hai subah suraj nikalata hai to uski rosani kaisi hoti hai or dupahar ko suraj ki rosani ko ham dekh nahi sakte or sam ko bhir dhal jata hai. Isi prakar Life me bahut utar chadab ate hai kabhi himmat nahi todani chahiye. Paresaniyo ka himmat se mukabala karna chahiye. Khush rahana chayiye.

  4. Aman

    Aapke ye 10 tips Mujhe help karenge kyunki mai isse amal karta hun Thank you.

  5. himanshu singh

    inspiring lines… good luck to all for a happy life..

  6. vicky kumar sharma

    Thanks a lot.

  7. RAGHAV

    JAISE SABKA MALIK 1 HOTA HAI
    WAISE HI HAR SAMASYA KA SAMADHAN HAI ” SANTUSTI “

  8. RAGHAV

    SANTUSTI HI INSAN KA LAKSHYA HONA CHAHIYE

  9. RAGHAV

    INSAN JEEVAN ME BAHUT KUCHH KHOTA HAI AUR BAHUT KUCHH PATA HAI BUT PHIR BHI INSAN SANTUST NAHI HOTA . MERE HISAB SE JO INSAN APNE AAP ME SANTUST NAHI HO SAKTA WAH JEEVAN ME KABHI KHUSH NAHI RAH SAKTA . HA WAH TARAKKI TO KAR SAKTA HAI LEKIN REAL KHUSHI KE MAYNE NAHI SAMAJH SAKTA .

    1. Pawan kr.maurya

      Yaaa bro you are right

  10. wasimakram

    very very thankful.

  11. raju

    Thanxx sir

  12. Waseem saifi

    Or kabhi tension mat , lo khush rho 🙂 daily happy day celebrate kro.

  13. amisha kushawaha

    supp virat jii…& ye read krke to koi bhi apni life m possitive thinking k sath apni life aaram se jii sakega…keep it up…i hope k ap ese hi sbko helpfulhote rhe..

    1. VIRAT CHAUDHARY

      Haa jarur Amisha ham aage bhi aisi hi inspiring information share karte rahenge, aap bhi apna sath aasaan hai k sath aise hi banaye rakhe or regular visit karate rahe.
      dhanywad. 🙂

  14. Kavya Kalathiya

    aapaki ye tips meri life me bahut madadgar hogi thank you so much
    for your tips on happy life
    it changs my life
    so again thank you so much

    1. VIRAT CHAUDHARY

      आपके लिए यह टिप्स उपयोगी साबित हुई यह हमारे लिए ख़ुशी और गर्व का विषय है. 🙂
      धन्यवाद.

      1. sumit Singh

        Superb sir this is the finest essay for me upto now

  15. SURENDRA KUMAR CHOUDHARY.

    Dear VIRAT Jee,
    Dhanyavad iss importent and usefull subject ke liye, hum log apne jeevan me jitni bhi activity karten hain woh sab muskil hota hai vanispat aapke bataye huye baton se. bus in ko humen apna habit banane ki jarurat hai.

  16. Dharam

    Aap ke story bahut he acche hai sir

  17. Prakash Raj

    bahut badhiya post virat ji aapke dwara. happy life ke liye ye tips kafi madadgar sabit hoga.

  18. Absarul Haque

    जो चाहा वो मिल जाना सफलता है . जो मिला उसको चाहना प्रसन्नता है .
    बहोत अच्छा लिखा है आपने।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.